रविवार, 27 जून 2010

उदासी के साथ अकेले

अकेले

उदासी के साथ रहना

एक तरह की आश्वस्ति देता है

- कि
इस अकेलेपन को
हम

खत्म कर सकते हैं

कभी भी

उस डर के मुकाबिल

कि
किसी के साथ रहकर भी

जो
अकेले रह गए
तो...

कोई टिप्पणी नहीं:

फेशबुक - एक आत्‍मालोचना

अपना चेहरा उठाए खडे हैं हम बारहा मुकाबिल आपके अब आंखें हैं पर द़ष्टि नहीं है मन हैं पर उसकी उडान की बोर्ड से कंपूटर स्‍क्रीन तक है...